BMW CASE: आरोपी मिहिर शाह ने किया स्वीकार, हादसे के समय वो चला रहा था बीएमडब्ल्यू कार; पुलिस का बड़ा खुलासा

बीएमडब्ल्यू हिट एंड रन मामले में मुंबई की अदालत ने मुख्य आरोपी मिहिर शाह को 16 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। इससे पहले मिहिर शाह को बीते दिन गिरफ्तार किया गया था। वहीं पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आरोपी मिहिर शाह ने स्वीकार किया है हादसे के समय वहीं कार चला रहा था। 24 वर्षीय आरोपी 16 जुलाई तक पुलिस हिरासत में रहेगा, उसने दावा किया है कि उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस है, लेकिन पुलिस को अभी तक दस्तावेज बरामद नहीं हुआ है।

मामले में पुलिस ने 14 लोगों के दर्ज किए बयान

वहीं पुलिस ने अब तक आरोपी मिहिर शाह की मां, बहनें और दोस्तों समेत कुल 14 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। मालमे में अधिकारी ने बताया कि पुलिस दक्षिण-मध्य मुंबई के वर्ली में हादसे वाली जगह का दौरा कर सकती है और अपनी जांच के हिस्से के रूप में पूरे अपराध का सीन रिक्रिएट कर सकती है। बता दें कि आरोपी मिहिर शाह का पिता राजेश शाह, जो पालघर जिले से शिवसेना के नेता हैं, भी मामले में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर बाहर हैं।

मंगलवार को ठाणे से गिरफ्तार किया गया आरोपी

बीएमडब्ल्यू हिट एंड रन केस में आरोपी मिहिर शाह को मंगलवार को ठाणे जिले से गिरफ्तार किया गया। बता दें कि दो दिन पहले उसने कथित तौर पर अपनी बीएमडब्ल्यू कार से एक स्कूटर को टक्कर मार दी थी, जिससे कावेरी नखवा नाम की महिला की मौत हो गई थी, जो स्कूटर पर पीछे बैठी थी और जबकि स्कूटर चला रहा उसका पति प्रदीप घायल है।

आरोपी जानता था कि कार में महिला फंसी थी- पुलिस

अधिकारी ने बताया कि दंपति के स्कूटर को टक्कर मारने के बाद, मिहिर शाह को अच्छी तरह पता था कि महिला लग्जरी कार के एक टायर में फंस गई है, लेकिन फिर भी उसने लापरवाही से गाड़ी चलाई और नहीं रुका। इस दौरान वहां से गुजर रहे कई वाहन चालकों ने उसे रुकने के लिए इशारा किया और उस पर चिल्लाए भी थे। यह भयानक सड़क हादसा वर्ली के मेला जंक्शन और बिंदु माधव ठाकरे चौक पर लगे पुलिस के सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई।

'कई लोगों के कहने पर भी आरोपी ने नहीं रोकी कार'

अधिकारी के अनुसार, बिंदु माधव ठाकरे चौक पार करने के बाद, अन्य वाहन चालकों ने मिहिर शाह से कार रोकने के लिए कहा, लेकिन उसने उनकी बात नहीं सुनी और गाड़ी चलाता रहा। वहीं पूछताछ के दौरान, आरोपी, जिसका पारिवारिक ड्राइवर उसके बगल में बैठा था, ने स्वीकार किया कि दुर्घटना के समय वह गाड़ी चला रहा था, लेकिन उसने पुलिस को यह नहीं बताया कि उसने किस स्थान से गाड़ी चलाना शुरू किया और कब तक गाड़ी चलाई। अधिकारी के अनुसार, मिहिर शाह जांच में सहयोग नहीं कर रहा है। 

'हादसे के बाद से फरार हैं आरोपी के कई परिजन'

वहीं इस हादसे के बाद, मुख्य आरोपी, उसके परिवार के सदस्य, जो बोरीवली में रहते हैं, और उसके दादा, जो पालघर में रहते हैं, अपने-अपने घरों से फरार गए और जिनका पता नहीं चल पाया है। अधिकारी ने आगे कहा कि अपनी पहचान छिपाने के लिए मिहिर शाह, जिस पर पुलिस ने गैर इरादतन हत्या समेत अन्य आरोपों में मामला दर्ज किया है, ने अपनी दाढ़ी मुंडवा ली और अपने बाल छोटे करवा लिए। फिलहाल पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या किसी ने उसको ऐसा करने में उसकी मदद की थी। उन्होंने कहा कि पुलिस हादसे के बारे में अधिक जानकारी जुटाने और घटनाओं के पूरे क्रम को जानने के लिए पारिवारिक ड्राइवर राजऋषि बिदावत और मिहिर शाह को आमने-सामने लाएगी। इस हादसे के समय मिहिर शाह के साथ कार में मौजूद ड्राइवर बिदावत भी आरोपी है।

2024-07-10T17:56:43Z dg43tfdfdgfd