सोचिए गरीब किसान आपको कितनी दुआएं देगा... लेखपालों से CM योगी की अपील

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के तहत हुई भर्ती परीक्षा के सफल 7720 लेखपालों को नियुक्ति पत्र बांटे. इस दौरान उन्होंने कहा कि कोई भी यह नहीं कह सकता कि उसे इसके लिए पैसे देने पड़े. मुख्यमंत्री ने कहा कि दो साल पहले निकली इस भर्ती परीक्षा में नियुक्ति के लिए कई बार रोड़े अटकाए गए, लेकिन आखिर में आज सभी अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र मिल गया है. इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अगर आप ईमानदारी से काम करेंगे तो एक गरीब किसान जब योजनाओं से लाभान्वित होगा तो आपको कितना आशीर्वाद देगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्या तब खड़ी होती है जब हम अनावश्यक विवाद को खड़ा करते हैं और समस्या के समाधान में देरी करते हैं. कुछ भी गैर कानूनी मत कीजिये. इसके लिए टेक्नोलॉजी का प्रयोग करें. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की फितरत होती है,अच्छे कार्यों में रोड़े अटकाना और गुमराह करना. इस कार्य में भी रोड़े अटकाए गए, लेकिन अधीनस्थ चयन आयोग सुप्रीम कोर्ट तक गया और और आज ये नियुक्ति पत्र वितरित किया जा रहा है. इस प्रक्रिया के पूरा होते ही प्रदेश में 30837 लेखपालों की नियुक्ति प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

नियुक्ति प्रक्रिया निष्पक्ष

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा पिछले 7 वर्षों से नियुक्ति प्रक्रिया निष्पक्ष रूप से चल रही है. इसकी वजह से 6 लाख से ज्यादा युवा प्रदेश के उन्नति मे सहयोग दे रहे है. पुलिस विभाग ने ही अकेले 1 लाख 55 हजार युवा भर्ती किये. बिना भेदभाव और आरक्षण नियमों का पालन करते हुए युवा योग्यता अनुरूप भर्ती हो रहे है. 2017 से पहले भर्ती प्रक्रिया मे होल थे. एक परिवार आपस मे जिले बांट लेते थे. चचा-भतीजे वसूली के लिए निकल जाते थे. लेकिन आज नियुक्ति प्रक्रिया में निष्पक्षता से युवाओं में विश्वास आया है. युवाओं का विश्वास ही हमारी ताकत है.

ये नया उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि ये वही प्रदेश है जब यहां का युवा बाहर जाता था तो पहले ही छांट दिया जाता था, लेकिन आज युवा का सम्मान होता है. लोग समझ गए है ये नया उत्तर प्रदेश है और नए युवा है. पहले की सरकारों की नीयत साफ नहीं थी. भाई, भतीजावाद होता था. कोर्ट से स्टे होते थे. सरकार के दलालों और गुर्गों की जेब मे पैसा आ जाता था.

2024-07-10T07:50:16Z dg43tfdfdgfd